Thu, Jan 27, 2022
Updated 11:04 am IST
Updated 11:04 am IST

पार्टी महासचिव सतीश मिश्रा ने किया ऐलान, बसपा सुप्रीमों मायावती नहीं लड़ेंगी चुनाव

Published on : Jan 11, 2022, 13:46 PM
By : Bureau
news

HIGHLIGHTS

  • बसपा सुप्रीमों मायावती इस बार विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी
  • मायावती के करीबी सतीश मिश्रा भी इस बार नहीं लड़ेंगे विधानसभा चुनाव
  • मायावती अब तक चुनाव प्रचार के लिए किसी भी तरह की कोई रैली को संबोधित नहीं किया हैं

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में चुनाव की घोषणा हो गयी हैं।  प्रदेश में कुल सात चरणों में चुनाव होंगे। हालांकि प्रदेश की चार बार सीएम बन चुकीं मायावती अब तक चुनाव प्रचार के लिए किसी भी तरह की कोई रैली को संबोधित नहीं किया हैं। इसी बीच अब खबर आ रही हैं कि बसपा सुप्रीमों मायावती इस बार विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी।  सिर्फ मायावती ही नहीं बल्कि उनके करीबी सतीश मिश्रा भी इस बार विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे।  

सतीश मिश्रा ने किया खुलासा 

बीएसपी महासचिव सतीश मिश्रा ने मंगलवार को घोषणा करते हुए कहा कि 'पूर्व सीएम मायावती और मैं चुनाव नहीं लड़ेंगे।' पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए महासचिव सतीश मिश्रा ने बताया कि इस बार प्रदेश में फिर से बसपा की वापसी होगी और 10 मार्च के बाद राज्य में बसपा की ही सरकार होगी।  यही नहीं सपा के 400 सीट जितने के दावों को खारिज करते हुए उन्होंने कहा कि जब सपा के पास 400 उम्मीदवार ही नहीं हैं तो वह कैसे चुनाव में 400 सीट जीत सकती हैं।  उन्होंने कहा कि एसपी या फिर बीजेपी सत्ता में नहीं आएंगे। इस बार बहुजन समाज पार्टी सरकार बनाने जा रही है।

अकेले ही चुनाव प्रचार का उठाये है जिम्मा 

बसपा महासचिव सतीश मिश्रा इस बार पार्टी के प्रचार की कमान संभाले हुए हैं।  अवध से लेकर पूर्वांचल तक उन्होंने कई बड़ी सभाओं को संबोधित किया हैं वही दूसरी तरफ ब्राह्मण जाति के वोटर्स को लुभाने के लिए कई बड़े आयोजनों को आयोजित भी किया हैं।  हालांकि पार्टी सुप्रीमों मायावती ने नाही अभी तक कोई रैली को संबोधित किया है और नहीं किसी तरह के रोड शो में हिस्सा लिया हैं।  

गौरतलब हो कि यूपी देश का ऐसा राज्य है जहां से राजनीति से लेकर बॉलीवुड की दुनिया में कई दिग्गज सामने आए हैं। जिसमें प्रयागराज में जन्मे महानायक अमिताभ बच्चन, देश के तीन बार प्रधानमंत्री रहे अटल बिहारी वाजपेयी शामिल हैं। यूपी ही एकमात्र ऐसा राज्य है, जिसने सबसे ज्यादा प्रधानमंत्री देश को दिए हैं।  वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र वाराणसी भी इसमें शामिल है।  ऐसे में सभी की निगाहें यूपी चुनाव पर टिकी हुई हैं।

INSIDE STORY
image

स्पेशल रिपोर्ट

चीन का वुहान: जहां से शुरू हुआ कोरोना का कहर

पटना >>>>>>> वुहान शहर का नाम भले हीं चीन के बीजिंग या शंघाई जैसे शहरों के तौर पर नहीं लिया जाता है, लेकिन दुनिया के नक्शे पर अपना वजूद रखने वाले इस शहर का नाम कोरोना वायरस को लेक

image

देश

आखिर क्यों जरूरी है लॉकडाउन बढाना?

पटना: कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग का ऐलान करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 21 दिन के लॉकडाउन की थी। यह अवधि आगामी 14 अप्रैल को समाप्त हो रहा है। लोगों के मन एक सवाल उठ रहा है कि क्या 15 अप्रै

image

बिहार

बिहार में पूर्ण शराबबंदी ! सिर्फ एक ढकोसला.....

पटना: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भले हीं इस बात का डंका बजा रहे हों कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी है। शराब के मामले में कोई समझौता नहीं करेंगे। लेकिन स्थिति बद से बदतर है। शराब माफियाओं का दबदबा पूरे बिहार

image

देश

कृषि कानून के वापसी से चुनावी राज्य में बदलेगा सियासी समीकरण, भाजपा को मिल सकता हैं बड़ा फायदा

नई दिल्ली: देश के पांच राज्यों में अगले दो से ढाई महीने के बीच विधानसभा चुनाव होने हैं। विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए सभी राजनीतिक दलों ने अपने - अपने हिसाब से अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं।&nb

image

देश

अन्नदाताओं के सामने पहले भी झुकी हैं मोदी सरकार, 2015 में भी वापस लेना पड़ा था कानून

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज 19 नवंबर को राष्ट्र के नाम संबोधन में सरकार के द्वारा लाये गए तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का ऐलान किया।  इस दौरान उन्होंने कहा कि शीतकालीन सत्र के द

image

उत्तर प्रदेश

क्या योगी के सहारे अपनी बादशाहत बचाएंगे राजा भैया , राजनीतिक गलियारों में सरगर्मी हुई तेज

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के 403 विधानसभा सीटों में से एक हैं कुंडा विधानसभा सीट, जहां रघुराज प्रताप सिंह उर्फ़ राजा भैया की बादशाहत पिछले 30 सालों से चली आ रही हैं।  हालांकि चुनाव के नजदीक आते ही बड़ा सव